मुशर्रफ का 23 पार्टियों वाला महागठबंधन दूसरे ही दिन टूट, कई पार्टियां हुईं अलग

0
0
इस्लामाबाद.पाकिस्तान के पूर्व सैन्य तानाशाह परवेज मुशर्रफ के 23 पार्टियों के महागठबंधन अवामी इत्तेहाद (पीएआई) के एलान के एक दिन बाद ही कई पार्टियों ने उससे खुद को अलग कर लिया है। गठबंधन की दो बड़ी पार्टियों पाकिस्तान अवामी तहरीक और मजलिस वहदत-ए-मुसलमीन ने मुशर्रफ की अगुआई वाले गठबंधन का हिस्सा होने की रिपोर्ट से इनकार कर दिया। मुशर्रफ के लिए इसे एक बड़ा झटका माना जा रहा है।
– सबसे पहले पाकिस्तान अवामी तहरीक ने शनिवार को ही खुद को गठबंधन से अलग कर लिया था। इसके तुरंत बाद मजलिस वहदत-ए-मुसलमिन (एमडब्ल्यूएम) ने भी गठबंधन का हिस्सा होने से इनकार कर दिया।
– एमडब्ल्यूएम ने मेम्बर्स ने कहा कि हमारे लीडर्स पार्टी के लापता लीडर नासिर शेराजी की रिकवरी पर ध्यान दे रहे हैं।
– उन्होंने कहा कि गठबंधन को लेकर ना ही हमसे किसी ने संपर्क किया और ना ही हमारे किसी लीडर ने किसी राजनीतिक या चुनावी गठबंधन से जुड़ी मीटिंग में हिस्सा लिया।
– सुन्नी इत्तेहाद काउंसिल के चेयरमैन साहबजादा हमीद रजा ने भी साफ किया कि उनकी पार्टी ने अवामी इत्तेहाद के साथ चुनावी मकसद से गठबंधन नहीं किया है। उन्होंने कहा कि चुनावी सियासत महागठबंधन अहल-ए-सुन्नत के जरिए किया जाएगा।
मुशर्रफ ने किया था गठबंधन का एलान
दुबई से शुक्रवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए मुशर्रफ ने मीडियाकर्मियों से कहा था कि मुहाजिर समुदाय का प्रतिनिधित्व करने वाली सभी पार्टियों को एकजुट होने की जरूरत है। मुशर्रफ भी मुहाजिर हैं और पिछले साल मार्च में पाकिस्तान से दुबई चले गए थे। वह पाकिस्तान अवामी इत्तेहाद के प्रमुख होंगे और इकबाल डार को पार्टी का महासचिव बनाया गया है। बता दें अगले साल पाकिस्तान में चुनाव होने हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here