U17 फुटबॉल WC: इंग्लैंड-स्पेन के बीच फाइनल आज, 8 साल बाद मिलेगा नया चैम्पियन

0
3

कोलकाता.फीफा अंडर-17 वर्ल्ड कप टूर्नामेंट का फाइनल मैच शनिवार को यहां साल्ट लेक स्टेडियम में खेला जाएगा। यह मैच स्पेन और इंग्लैंड के बीच होगा। फाइनल मुकाबले को कोई भी टीम जीते इस टूर्नामेंट को आठ साल बाद नया चैम्पियन मिलेगा। पिछली बार 2009 में स्विट्जरलैंड ने नाइजीरिया को हराकर पहली बार इस टूर्नामेंट का खिताब जीता था।

फुटबॉल के पावरहाउस और तीन बार के चैम्पियन ब्राजील को हराकर इंग्लैंड टीम पहली बार अंडर-17 वर्ल्ड कप के फाइनल में पहुंची है।
– स्पेन अब तक तीन बार खिताबी मुकाबले में पहुंचकर खिताब से चूक गया है और चौथी कोशिश में वो इस सिलसिले को तोड़ने के लिए उतरेगा।
– स्पेन ने इस साल यूरो अंडर-17 टूर्नामेंट के फाइनल में इंग्लैंड को हराकर ही खिताब जीता था।
पहले कभी क्वार्टर फाइनल से आगे नहीं बढ़ी है इंग्लैंड की टीम
– इस टूर्नामेंट में इंग्लैंड अब तक क्वार्टर फाइनल तक ही पहुंची है। स्पेन 1991 में घाना, 2003 में ब्राजील और 2007 में नाइजीरिया में हुए अंडर-17 वर्ल्ड कप का उपविजेता रहा है। इंग्लैंड ने सेमीफाइनल में ब्राजील को 3-1 से, जबकि स्पेन ने माली को 3-1 से हराकर फाइनल में जगह बनाई है।
ब्रूस्टर ने जमाई है लगातार दो हैट्रिक
– इंग्लिश फुटबाल टीम के नए सुपरस्टार रियान ब्रूस्टर ने अमेरिका और ब्राजील के खिलाफ क्वार्टर फाइनल और सेमीफाइनल में लगातार दो बार हैट्रिक करते हुए अपनी टीम को जीत दिलाई। वहीं, स्पेन के कप्तान एबेल रूइज ने अपने डबल गोल से टीम को फाइनल तक ले आए। दोनों ही ‘गोल्डन बूट’अवार्ड की दौड़ में बने हुए हैं।
इंग्लैंड जीत चुका है अंडर-20 वर्ल्ड कप और अंडर-19 यूरोपियन चैम्पियनशिप
– इंग्लैंड की टीम ने फीफा अंडर-20 वर्ल्ड कप और यूएफा अंडर-19 चैंपियनशिप के खिताब जीते हैं। अब अंडर-17 वर्ल्ड कप पर नजर।
– इंग्लैंड ने अंतिम-16 में जापान के साथ 1-1 से मैच ड्रॉ किया था और टाईब्रेकर में जीत दर्ज की थी। बाकी मैचों में सीधे जीत मिली।
– स्पेन ग्रुप डी में ब्राजील से अपना पहला मैच हारा था। दोनों ही यूरोपियन टीमें संतुलित हैं और उसके पास बेहतरीन डिफेंस है।
– इसी मैदान पर फाइनल से पूर्व ब्राजील और माली के बीच तीसरे स्थान के लिए ब्रॉन्ज मेडल के लिए मुकाबला भी खेला जाएगा।
टूर्नामेंट के रिकॉर्ड्स:
– 18 गोल के साथ सबसे आगे हैं इंग्लैंड।
– 157 शॉट जमाए हैं माली के प्लेयर्स ने टूर्नामेंट में गोल पर।
– 3.5 गोल हुए हैं औसतन प्रति मैच।
– 07 गोल किए हैं इंग्लैंड के ब्रिवस्टर ने, सबसे ज्यादा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here